B.Ed Full Form in Hindi – B.Ed क्या होता है?

B.Ed Full Form in Hindi Kya Hai

B.Ed Full Form in Hindi क्या होती है, B.Ed क्या होता है, B.Ed Course क्या है, B.Ed की Eligibility क्या है, B.Ed के बाद Course और Jobs कौन कौन से है. अगर आप B.Ed से जुड़े हुए इन्ही सवालों का जबाब खोज रहे है तो ये Post आपके लिए ही है.

आज आपको में इस Post में B.Ed के बारे में जानकारी देने जा रहा हूँ. मैं आशा करता हूँ कि आप B.Ed के बारे में जो कुछ भी जानना चाहते है वो आपको इस Post में अवश्य मिल जाये. अगर आप B.Ed के बारे में अच्छे से समझना चाहते है तो इस Post को पूरा Read जरुर करे.

दोस्तों, हममें से कई लोगो का सपना होता है की वो Teacher बन सके और बच्चों को शिक्षित कर सके. वैसे तो आप अपनी Knowledge के अनुसार किसी को भी अपना ज्ञान दे सकते है परन्तु पढ़ने के लिए भी एक अलग Course होता है.

यदि आप किसी College में Professional Teacher की तरह पढ़ना चाहते है तो आप B.Ed के लिए Apply कर सकते है तो आइये जानते है की B.Ed Full Form in Hindi क्या होती है और B.Ed क्या होता है.

B.Ed Full Form in Hindi क्या है और B.Ed क्या है?

B.Ed Stands for “Bachelor of Education (बैचलर ऑफ़ एजुकेशन)”. B.Ed का हिंदी में मतलब “शिक्षा में स्नातक” होता है. ये एक Professional Degree Course है जिसमे Students को Teacher बनने के लिए तैयार किया जाता है.

यदि Teaching Line मे ही अपना Career बनाना चाहते है तो आप B.Ed Course के लिए Apply कर सकते है. ये Course पुरे दो साल का होता है. इस Course को आप तभी कर सकते है जब आपकी Graduation पूरी हो जाये.

B.Ed के लिए Eligibility

बीईडी पाठ्यक्रम का अध्ययन करने के लिए आपको बीईडी प्रवेश परीक्षा को Clear करना होगा. जिन छात्रो ने अपनी स्नातक की डिग्री पूरी की है वे बीईडी परीक्षाओं के लिए Eligible है. उदाहरण के लिए जिन छात्रो के पास बैचलर ऑफ कॉमर्स (बीकॉम), बैचलर ऑफ साइंस (बीएससी) या बैचलर ऑफ आर्ट्स (बीए) डिग्री है,

वे भारत के विभिन्न विश्वविद्यालयों और कॉलेजों द्वारा आयोजित बीईडी प्रवेश परीक्षा के लिए Eligible है. छात्रों को स्नातक स्तर पर कम से कम 50% अंकों की आवश्यकता होती है.यह एक कौशल आधारित पाठ्यक्रम है जो छात्रों को सभी आवश्यक शिक्षण कौशल प्रदान करने पर केंद्रित है ताकि वे कक्षा के शिक्षण के विभिन्न पहलुओं को समझ सके.

Art के छात्रो को इतिहास, नागरिक, भूगोल इत्यादि को पढ़ाने के लिए प्रशिक्षित किया जाता है. Science Graduates को जीवविज्ञान, भौतिकी और रसायन शास्त्र सिखाने के लिए प्रशिक्षित किया जाता है.

Commerce Graduates को लेखांकन, अर्थशास्त्र, आदि को पढ़ाने के लिए प्रशिक्षित किया जाता है. पाठ्यक्रम मुख्य रूप से शिक्षण कौशल प्रदान करने और कक्षा शिक्षण के विभिन्न पहलुओं से परिचित छात्रों को बनाने के लिए डिज़ाइन किया गया है.

B.Ed पूरा करने के बाद, छात्र M.Ed शिक्षा के मास्टर के लिए योग्य बन जाते है. National Council for Teacher Education (NCTE) वैधानिक निकाय है जो भारत मे विभिन्न शिक्षक प्रशिक्षण संस्थानो द्वारा प्रदान किए जाने वाले शिक्षण पाठ्यक्रमों पर नज़र रखता है.

B.Ed के Popular Entrance Exams

IGNOU B.Ed Entrance Exam

Guru Nanak Dev University B.Ed Entrance Exam

Maharashtra B.Ed Common Entrance Test

Lucknow University B.Ed Entrance Exam

Telangana State Education Common Entrance Test

Uttar Pradesh B.Ed Joint Entrance Exam

Punjab University B.Ed Application Form

Jammu Kashmir B.Ed Entrance Exam

Himachal Pradesh University B.Ed Entrance Test

Gujarat University B.Ed Entrance Test

B.Ed के Popular Collgege

Lady Irwin College, Delhi

Bombay Teacher’s Training College, Mumbai

Kasturi Ram College of Higher Education, Delhi

Andhra University, Visakhapatanam

Government College of Education, Chandigarh

D.M. College of Teacher Education, Imphal

St. Xavier’s College of Education, Patna

Jamia Millia Islamia University, Delhi

SNDT Women’s University, Mumbai

Himachal Pradesh University, Department of Education, Shimla

Lady Shri Ram College for Women, Delhi

Banaras Hindu University (BHU), Varanasi

B.Ed ke Advantages

B.Ed, Teacher बनने के लिए Best Course है. B.Ed Course करने के बाद आप किसी भी गवर्मेंट या प्राइवेट स्कूल में पढ़ा सकते है. B.Ed Course के बाद आप दुसरो को शिक्षित कर सकते है साथ ही साथ अपने ज्ञान को भी बढ़ा सकते हो.

B.Ed के बाद Courses और Jobs

TGT (Trained Graduate Teacher): स्नातक स्तर की पढ़ाई पूरी करने के बाद आप पहले से ही एक टीजीटी बन गए हैं. इसलिए बीईडी डिग्री वाले उम्मीदवारों को टीजीटी करने की आवश्यकता नहीं है. एक टीजीटी 10 वीं कक्षा तक पढ़ सकता है.

PGT (Post Graduate Teacher): छात्र जो स्नातकोत्तर है और बीईडी पूरा करने के साथ ही एक पीजीटी है. वह 12 वीं कक्षा तक पढ़ सकता है.

TET (Teacher Eligibility Test): यह एक परीक्षा है जो सरकारी शिक्षक बनने के लिए Minimum Eligibility Criteria है.

M.Ed और MA Education: M.Ed और MA Course आदि आप B.Ed Complete करने के बाद कर सकते है.

Hello Friends, मैं आशा करता हूँ की आपको ये B.Ed Full Form in Hindi – B.Ed क्या होता है post पसंद आई होगी. अगर आपको इस post से related कोई सवाल या सुझाव है तो नीचे comment करें और इस post को अपने दोस्तों के साथ जरुर share करें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *