CBSE Full Form in Hindi – सीबीएसई बोर्ड क्या है?

CBSE Full Form Kya Hai

CBSE Full Form in Hindi, CBSE Board Meaning in Hindi, ISCE का Full Form क्या है, आईसीएसई बोर्ड क्या है, ICSE और CBSE में क्या अंतर है, CBSE Board में कौन-कौन Subjects होते हैं. अगर आप भी इन्हीं सब सवालों के जबाब ढूंढ रहे हो तो इस पोस्ट को पूरा  जरुर  पढ़े.

आजकल बच्चों की पढ़ाई शुरू करवाते समय parents के लिए ये तय करना मुश्किल हो जाता है की वो किस education board से अपने बच्चों की पढ़ाई शुरू कराएँ और ये मुश्किल इसलिए होती है क्योंकि आज हमारे सामने बहुत से education boards available हैं जैसे की CBSE, ICSE और State Board.

हमारे देश के सभी राज्य में अपना state board होता है लेकिन बहुत ही कम लोग अपने बच्चों को state board में पढ़ाना चाहते हैं क्योंकि आज के समय में लोगो को CBSE और ICSE education board ज्यादा पसंद है और इस पोस्ट में आपको मैं CBSE board के बारे में बताने वाला हूँ.

CBSE Full Form – सीबीएसई की फुल फॉर्म क्या है?

CBSE का full form “Central Board of Secondary Education” है और CBSE full form को हिंदी में केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड कहते है. इसकी स्थापना 3 नवबंर 1962 को हुई थी और इसका मुख्यालय नई दिल्ली में स्थित है. अभी CBSE के chairperson Dr Gursimran Dhillon है

Central Board of Secondary Education (CBSE) हमारे India में स्कूली शिक्षा का बहुत ही अहम Education board है और अभी तक लगभग 20,000+ schools CBSE से affilated हो चुके है.  CBSE का Official language Hindi और English है.

CBSE हर साल 10th और 12th के वार्षिक परीक्षा मार्च महीने में लेती है. इसके अलावा यह विभिन्न प्रकार की परिक्षाओं का आयोजन भी करवाता है जैसे की AIMPT की परीक्षा जो की विभिन medical college में नामाकन पानी के लिए pass होना अनिवार्य है.

इन परीक्षाओं के अलवा सीबीएसई central teachers eligibility test को भी लेती है जो की NET द्वारा प्रदान किया जाता है. Engineering और Architecture में प्रवेश लेने के लिए यह AIEEE की परीक्षा भी करवाता है जिसे अब JEE के नाम से जाना जाता है.

CBSE Board और ICSE Board में क्या अंतर है?

CBSE और ICSE में सबसे बड़ा अंतर ये है की CBSE board को Indian government ने certified (recognised) किया हुआ है और ICSE board को नहीं, लेकिन दोनों boards के certificate को पूरी दुनिया (globally) valid माना जाता है.

अब अगर मैं बात करूँ दोनों boards के syllabus और exam pattern की तो CBSE board best है क्योंकि ज्यादातर सही competitive enterance exams जैसे की IIT-JEE, AIEEE, AIPMT और यहाँ तक की UPSC exam भी CBSE syllabus पर based होते हैं.

इसलिए जो students CBSE board से study करके इन exam को देगा तो उसे इन exam के format और syllabus को समझने में आसानी होगी. ICSE board का syllabus और exam pattern उन स्टूडेंट्स के लिए अच्छा होता है जो अपनी higher education के लिए विदेश (abroad) जाना चाहते हैं.

Abroad studies के लिए students को GRE, TOEFL और GMAT जैसे exams को देना होता है जहाँ पर english verbal ability testing की जाती है और ICSE syllabus में students की verbal ability को बहुत ज्यादा improved किया जाता है.

इन अंतर के अलावा एक अंतर और आपको पता होना चाइये की CBSE approved schools में English और Hindi दोनों language का use करके students को पढाया जाता है और ICSE approved schools में सिर्फ English language में students को पढ़ाया जाता है.

Hello Friends, मैं आशा करता हूँ की आपको ये CBSE Full Form in Hindi – सीबीएसई बोर्ड क्या है post पसंद आई होगी. अगर आपको इस post से related कोई सवाल या सुझाव है तो नीचे comment करें और इस post को अपने दोस्तों के साथ जरुर share करें.