CFL Full Form in Hindi –सी. एफ. एल. क्या होता है?

CFL full form kya hai in hindi

CFL Full Form in Hindi क्या होती है, CFL क्या होता है, CFL के कौन कौन से Parts होते है, CFL के कितने Type होते है. अगर आप CFL से जुड़े हुए इन्ही सवालों का जबाब खोज रहे है तो ये Post आपके लिए ही है.

आज आपको में इस Post में CFL के बारे में जानकारी देने जा रहा हूँ. मैं आशा करता हूँ कि आप CFL के बारे में जो कुछ भी जानना चाहते है वो आपको इस Post में अवश्य मिल जाये. अगर आप CFL के बारे में अच्छे से समझना चाहते है तो इस Post को पूरा Read जरुर करे.

दोस्तों आपको ये तो पता ही होगा की CFL के अविष्कार से पहले Incandescent Light Bulb का उपयोग होता था. यह Yellow Color का प्रकाश उत्त्पन करता है तथा CFL से ज्यादा बिजली Use करता था और यह काफी Heat भी उत्त्पन करता था.

Incandescent Light Bulb का Use आज भी होता है पर इसका इस्तेमाल CFL के मुकाबले काफी कम हो गया है. आइये CFL के बारे में और भी Details से जानते है की CFL Full Form in Hindi क्या है और CFL क्या होता है.

CFL Full Form in Hindi क्या होता है और CFL क्या होता है?

CFL Stands for “Compact Fluorescent Lamp (कॉम्पैक्ट फ्लोरोसेंट लैंप)”. यह एक Lamp होता है जिसमे Fluorescent नामक पदार्थ सघनता से भरा रहता है. इसे Compact Fluorescent Light, Energy-Saving Light और Compact Fluorescent Tube भी कहा जाता है.

CFL और Incandescent Light Bulb लगभग एक समान प्रकाश उत्पन्न करते है पर CFL एक Incandescent Light Bulb के मुकाबले काफी कम बिजली का उपभोग करता है. और इसकी Life Incandescent Light Bulb से काफी अधिक होती है.

Incandescent Light Bulb प्रकाश उत्त्पन करने पर अधिक Heat भी पैदा करता है पर CFL कम Heat उत्त्पन करता है. CFL की Price काफी अधिक होती है पर वह अपने Price से अधिक बिजली की बचत कर लेता है.

CFL की History

सबसे पहले CFL का अविष्कार Peter Cooper Hewitt ने 1890 में किया था. उस वक्त CFL के कीमत काफी अधिक होने के करण वह केवल Photographic Studio और Industries में ही होता था. Fluorescent light कि लम्बाई को कम करने के लिए इसे Circular और U-shaped में बनाया गया.

पहला fluorescent light bulb आम जनता के बीच 1939 में उतारा गया. जनरल इलेक्ट्रिक के एक इंजीनियर Edward E. Hammer द्वारा 1 9 76 में Spiral CFL का आविष्कार किया गया था।

CFL के मुख्य भाग

देखा जाये तो CFL के दो मुख्य भाग होते है इनके Bases पर के CFL Work करती है-

Circuit Board- यह CFL का वह भाग होता है जहाँ एक CFL को जलाने के लिए जरूरी Components (जैसे- NPN power switch transistor, resistors, mini transformer आदि) लगे रहते है.

Tube- यह कांच कि एक Tube होती है जिसमे Phosphorus भरा होता है. जो Circuit Borad से उर्जा लेकर उसे प्रकाश में बदल देता है.

CFL के Types

CFL 8 प्रकार कि होती है जिनके नाम कुछ इस प्रकार है-

  • Spiral CFL Bulbs
  • Incandescent Shaped CFL Bulbs
  • Globe CFL Bulbs
  • Tube CFL Bulbs
  • Candle-Shaped CFL Bulbs
  • Circular CFL Bulbs
  • Post CFL Bulbs
  • Reflector CFL Bulbs

Hello Friends, मैं आशा करता हूँ की आपको ये CFL Full Form in Hindi –सी. एफ. एल. क्या होता है post पसंद आई होगी. अगर आपको इस post से related कोई सवाल या सुझाव है तो नीचे comment करें और इस post को अपने दोस्तों के साथ जरुर share करें.