DVD Full Form in Hindi – डी. वी. डी. क्या है?

DVD Full Form in Hindi Kya Hai

DVD Full Form in Hindi क्या होती है, DVD क्या होता है, DVD का किया Use किया होता है, DVD कितने Type होती है, DVD की कितनी Capacity होती है. अगर आप DVD से जुड़े हुए इन्ही सवालों का जबाब खोज रहे है तो ये Post आपके लिए ही है.

आज आपको में इस Post में DVD के बारे में जानकारी देने जा रहा हूँ. मैं आशा करता हूँ कि आप DVD के बारे में जो कुछ भी जानना चाहते है वो आपको इस Post में अवश्य मिल जाये. अगर आप DVD के बारे में अच्छे से समझना चाहते है तो इस Post को पूरा Read जरुर करे.

दोस्तों, आज के समय में हम किसी भी प्रकार का Data रखने के लिए Pen Drive का इस्तेमाल करते है पर आज से काफी समय पहले जब Pen Drive नही थी पर हम CD का इस्तेमाल करते थे. लेकिन उसका Size भी काफी कम होता था.

हम CD ज्यादा Data Save नही कर पाते थे. ज्यादा Data Save करने के लिए कुछ Companies ने मिलकर DVD का Invention किया. तो आइये जानते है कि DVD Full Form in Hindi क्या होती है और DVD क्या होता है.

DVD Full Form in Hindi क्या है और DVD क्या है?

DVD Stands for “Digital Versatile Disc”. DVD को हिंदी में “डिजिटल वर्सटाइल डिस्क” कहते है. इसे “Digital Video Disc” के नाम से भी जाना जाता है. यह एक Digital Optical Disc Format है.

ये एक Storage Divce है इसमें हम किसी भी Format का Data Store (जैसे- Files, Audio, Video,Software etc) करा सकते है. Operating System भी DVD में Store किया जाता है. इसका आकर CD (Compact Disc) जितना ही होता है.

लेकिन इसकी Storage Capacity CD से ज्यादा होने के करण इसमें ज्यादा Data Store कर सकते है. इसमें मौजूद Videos या Audios को Play करने के लिए एक DVD Player की आवश्यकता होती है. इसे CD Player से नही चलाया जा सकता है.

सबसे पहले VHS Tape Videos देखें के लिए VHS Tape का इस्तेमाल किया जाता था. लेकिन वो दिखने में काफी बड़ी और उसमे Video की Quality भी अच्छी नही होती थी . इसलिए DVD को VHS Tape की जगह लेने के लिए विकसित किया गया.

DVD चार Companies (Philips, Sony, Toshiba and Panasonic) के द्वारा Developed तथा Invent किया गया है. 1997 में DVD ने CD को Enterainmentऔर Data Storage के माध्यम से अलग कर उसका स्थान ले लिया.

DVD के Types

उपयोगिता के आधार पर DVD को निम्नलिखित तीन भागों में विभाजित किया गया है-

  • DVD- ROM : इसमें मौजूद Data को आप केवल पढ़ सकते है यानी आप उसमे मौजूद किसी भी प्रकार के Data में कोई भी बदलाव नही कर सकते है.
  • DVD- R : इसमें आप Data को केवल एक ही बार Record कर सकते है. एक बार Data Record हो जाने के बाद Data दौबारा नही हटाया जा सकता है.
  • DVD- RW : इसमें आप Data को Recored करके Read कर सकते है तथा उस Data को फिर से Erase करके वापस नया Data Recored कर सकते है.

DVD की Capacity

Capacity के Basis पर DVD को चार भागों में विभाजित किया गया है-

  • Single-sided, Single layer: इसके Capacity 4.7GB होती है.
  • Single-sided, Double layer: इसके Capacity 8.5GB से 8.7GB तक होती है.
  • Double-sided, Single layer: इसके Capacity 9.4GB होती है.
  • Double -sided, Double layer: इसके Capacity 17.8GB होती है.

Also Read: USB Full Form in Hindi – युएसबी क्या होता है?

Also Read: ROM Full Form in Hindi – रोम क्या होती है?

Also Read: RAM Full Form in Hindi – रैम क्या होती है?

Hello Friends, में आशा करता हूँ की आपको ये DVD Full Form in Hindi – डी. वी. डी. क्या है post पसंद आई होगी अगर आपको इस post से related कोई सवाल या सुझाव है तो नीचें comment करें और इस post को अपने दोस्तों के साथ जरुर share करें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *