GPS Full Form in Hindi – जी. पी. एस. क्या है?

GPS Full Form in Hindi kya hai

GPS Full Form in Hindi क्या है, GPS क्या है, GPS कैसे कार्य करता है, GPS के कितने Parts होते है, GPS के Advantage क्या है. अगर आप GPS से जुड़े हुए इन्ही सवालों का जबाब खोज रहे है तो ये Post आपके लिए ही है.

आज आपको में इस Post में GPS के बारे में जानकारी देने जा रहा हूँ. मैं आशा करता हूँ कि आप GPS के बारे में जो कुछ भी जानना चाहते है वो आपको इस Post में अवश्य मिल जाये. अगर आप GPS के बारे में अच्छे से समझना चाहते है तो इस Post को पूरा Read जरुर करे.

दोस्तों, Technology के इस दौर में शायद ही कोई व्यक्ति होगा जो कि Smart Phones से रूबरू न हुआ हो आज के इस समय में Smart Phones लगभग सभी के पास होते है जो व्यक्ति Smart Phone का use करता होगा

उसे Google Map के बारे में जरुर पता होगा कि उसका Use क्या होता है अगर नही तो में आपको बता देता हूँ कि Google Map एक Application है जिससे आप किसी भी जगह कि Location पता कर सकते कि आप उससे कितनी दुरी पर है या वो जगह कहाँ स्थित है.

Google Map आपको Location बताने के लिए जो Technology Use करता है वो है GPS तो आइये जानते है GPS कि Full Form in Hindi क्या होती है और GPS का क्या मतलब होता है.

GPS Full Form in Hindi क्या है और GPS क्या होता है?

GPS Stands For “Global Positioning System (ग्लोबल पोजिशनिंग सिस्टम)”. GPS को हिंदी में “वैश्विक स्थान- निर्धारण प्रणाली” कहते है. इसका मुख्य उपयोग Map बनाने में, जमीन का Survey करने में, Commercial Work में, Tracking आदि जैसे कार्य करने में किया जाता है.

इस Technology का विकास United State America कि Defence Agency ने किया था. इस Technology ने 25 अप्रैल, 1995 से पूरी तरह कम करना शुरू कर दिया. शुरुआत में इस Technology का उपयोग केवल सेना के लिए किया जाता था लेकिन बाद में इसे आम नागरिको के लिए भी किया जाने लगा.

GPS कैसे कार्य करता है?

यह 32 Satellite का एक समुह है जो कि पृथ्वी की सतह से 26,600 किलो मीटर कि दुरी पर स्थित है. GPS Receiver इन्ही Satellite से भेजे गये Signal के संकेतो के आधार पर Location बताते है.

यह बहतर Calculation के लिए चार Satellite का use करता है. यह User कि Three- Dimensional Position (Latitude, Longitude Line And Elevation) के बारे में जानकारी देता है.

GPS के कितने Parts होते है?

एक GPS को अच्छे से कार्य करने कि लिए तीन Parts कि आवश्यकता होती है- Space Segment, Control Segment और User Segment. अगर तीनो में से कोई भी Part न हो तो यह System कार्य नही करेगा.

  • Space Segment– यह इस System का वह Part है जहाँ Satellite स्थित है यह सभी Satellite 12 घंटे के समय अन्तराल पर पृथ्वी के चक्कर लगाते है तथा इसे 6 Orbits होते है.
  • Control Segment– यह Ground Control Unit है जहाँ से Satellite को Moniter व Maintain किया जाता है.
  • User Segment– यह इस System का वह Part है जहाँ कोई User Position व Time पता करने के लिए Satellite का Use करता है.

GPS के Advantage क्या है?

GPS System के वैसे तो कई Advantages हो सकते है. लेकिन यहाँ में उसके कुछ मुख्य Advantage लिखने जा रहा हूँ जैसे- Position पता करना, Anti- Theft System में, Navigators में, Tracking करने के लिए.

Hello Friends, में आशा करता हूँ की आपको ये GPS Full Form in Hindi – जी. पी. एस. क्या है post पसंद आई होगी अगर आपको इस post से related कोई सवाल या सुझाव है तो नीचें comment करें और इस post को अपने दोस्तों के साथ जरुर share करें.