NASA Full Form in Hindi – नासा क्या होता है?

NASA Full Form in Hindi

NASA Full Form in Hindi क्या होती है, NASA क्या होता है, NASA के क्या कार्य है, NASA का Headquater स्थित है, NASA की स्थापना कब हुई. अगर आप NASA से जुड़े हुए इन्ही सवालों को खोज रहे है तो ये Post आपके लिए ही है.

दोस्तों, आज आपको में इस Post में NASA के बारे में जानकारी देने जा रहा हूँ. मैं आशा करता हूँ कि आप NASA के बारे में जो कुछ भी जानना चाहते है वो आपको इस Post में अवश्य मिल जाये. अगर आप NASA के बारे में आच्छे से समझना चाहते है तो इस Post को पूरा Read करे.

हर कोई Space के बारे में जानने के लिए बड़ा इच्छुक होता है. हर किसी को जानना होता है कि वहाँ बदलो के पार क्या है, क्या पृथ्वी के जैसे और भी कई गृह मौजूद है, क्या मंगल गृह पर जीवन मौजूद है और क्या वह हम जीवन व्यतीत कर सकते है.

ऐसे ही और भी कई सवालों के जबाब को खोजने के लिए NASA कि स्थापना की गयी, NASA का काम Space से जुड़े हुए सवालों को खोजना और Space में होने वाली घटनाओं पर नजर रखना है. तो आइये जाने है NASA Full Form in Hindi क्या है और NASA का क्या मतलब होता है.

NASA Full Form in Hindi क्या है और NASA क्या होता है?

Nasa Stands For “National Aeronautics and Space Administration (नेशनल एरोनॉटिक्स एंड एडमिनिस्ट्रेशन)”. इसे हिंदी में “राष्ट्रीय वैमानिकी एवं अन्तरिक्ष प्रशासन” कहते है. यह United Nation America कि एक स्वतंत्र शाखा है जो America के Space Program के साथ- साथ Aeronautics और Aerospace Research के लिए जिम्मेदार है.

Nasa की History

29 July, 1958 को Nasa की स्थापना के लिए राष्ट्रीय एरोनॉटिक्स एंड स्पेस एक्ट तैयार किया गया जिस पर Dwight D. Eisenhower ने हस्ताक्षर कर उसे पारित किया. Eisenhower ने NASA की Seal को भी मान्यता दे दी.

Nasa स्थापना से पहले United Nation America में होने वाले सभी Space Program को NACA (National Advisory Committee for Aeronautics) संचालित किया करती थी. जब Nasa की स्थापना की गयी तो NACA को बंद न करके उसे Nasa में ही विलय कर दिया गया.

NACA में कार्य करने वाले 8,000 कर्मचारी, 100 Million Americi Dollar का वार्षिक बजट, लैंगली एयरोनॉटिकल लैबोरेटरी, एम्स एयरोनॉटिकल प्रयोगशाला, और लुईस फ्लाइट प्रणोदन प्रयोगशाला जैसी तीन Main Research Laboratories और दो छोटे परीक्षण Facilities भी Nasa में विलय हो गयी.

NASA के Missions

वैसे तो नासा ने Space से जुड़े हुए की Mission को अंजाम दिया है पर यहाँ हम कुछ मुख्य Missions के बारे में पढ़ेंगे.

Pionner Mission – Pioneer 10 और Pioneer 11 को Solar System के दो Photogenic Gas वाले गृह Jupiter (वृहस्पति) और Saturn (शनि) पर क्रमशः 1927 और 1973 में भेजे गये. इनका कार्य वृहस्पति और शनि पर मौजूद वातावरण, गैसों आदि के बारे में पता करना था.

Pioneer 11 ने लगभग 1 साल बाद वृहस्पति से शनि के लिए उड़ान भरी और जिससे इस गृह के अज्ञात चन्द्रमाओ की खोज हुई और शनि के चारो और चक्कर लगाने वाली Astroid Belt के बारे में भी पता चला.

Viking 1 – Viking 1 से पहले Mars के परीक्षण के लिए Mars 2 और 3 को Mars  पर भेजा गया जो की Landing में ही विफल हो गये जैसे ही उन्होंने Mars की सतह को छुआ वैसे ही उनमे विस्फोट हो गया. इन दोनों के बाद Viking 1 को Mars की सतह पर भेजा गया Viking 1 Mars की सतह पर सफल Landing करने वाला पहला Lander बना.

Viking 1 Lander करीब 6 साल 116 दिन तक Mars की सतह पर रहा. Viking 1 से पहली वार Mars की Colored (रंगीन) Picture लेना सफल हुआ. सबसे पहले Viking 1 में मंगल गृह से Picture Click करके हमारे पास पर भेजी.

Apollo Mission – NASA का सबसे महत्वपूर्ण और सफल Mission. जिसने चन्द्रमा के लिए हमारी सोच को बदल दिया. Apollo वो पहले Mission बना जिसके दौरान चाँद के पदार्थ को धरती पर लाया गया. Apollo से चाँद का नजदीकी से परीक्षण करने भी आसानी हुई.

Apollo के Astronauts आकड़े इकट्ठा करते है जिससे यह पता चलता है की चन्द्रमा कितना पुराना है, इसकी उत्पत्ति कैसे हुई और ये कैसे बना.

इनके आलावा Nasa ने Future के लिए और भी Mission है Plan कर रखे है. जिनमे से के एक Mission इन्सान को Mars पर भी भेजना है.

Hello दोस्तों, आशा करता हूँ की आपको ये NASA Full Form in Hindi – नासा क्या होता है post पसंद आई होगी. अगर आपको इस post से related कोई सवाल या सुझाव है तो नीचे comment करें और इस post को अपने दोस्तों के साथ जरुर share करें.