NGO Full Form in Hindi – एनजीओ क्या होता है?

NGO Full Form Kya Hai

NGO Full Form in Hindi क्या होती है, NGO क्या होता है, NGO के कितने Type होते है, NGO क्या है? एनजीओ के under में कौन कौन से business आते है. NGO के क्या क्या फायदे होते है और NGO का पूरा नाम क्या है.

NGO का हिंदी में क्या मतलब होता है, किसी भी ऐनजीओ के साथ काम करने के क्या फायदे होते है. NGO की हेल्प से हम दूसरों की मदद कैसे कर सकते है आप NGO Full Form से जुड़े हुए इन्ही सवालों का जबाब खोज रहे है तो ये Post आपके लिए ही है.

दोस्तों आपने अपनी life में NGO Word तो कभी न कभी तो सुना ही होगा NGO के बारे में Normally हम जानते है यह एक संस्था जो लोगो कि मदद के लिए बनाई जाती है. अगर आप भी लोगो कि मदद करना चाहते है तो आप किसी NGO से जुड़ सकते है या अपना कोई NGO Open भी कर सकते है.

आज आपको में इस Post में NGO के बारे में जानकारी देने जा रहा हूँ. मैं आशा करता हूँ कि आप NGO के बारे में जो कुछ भी जानना चाहते है वो आपको इस Post में अवश्य मिल जाये. अगर आप NGO के बारे में अच्छे से समझना चाहते है तो इस Post को पूरा Read जरुर करे.

आप ने NGO के बारे में बहुत कुछ सुना होगा शायद आप ने भी किसी NGO के साथ मिलकर कोई काम भी किया हो। ऐनजीओ एक बहुत ही कॉमन शब्द है जिसे हम सबने बहुत सुना है मगर कुछ लोग ही होते है जिन्हे NGO Full Form के बारे में पता है.

इस पोस्ट के माध्यम से आप को यह मालूम होगा की NGO क्या है? और NGO Full Form क्या होती है। तो चलिए आइये जानते है की NGO Full Form in Hindi क्या होती है और NGO क्या है.

NGO Full Form in Hindi क्या है और NGO का क्या मतलब होता है?

NGO Full Form “Non- Governmental Organization (नॉन- गवर्नमेंटल आर्गेनाइजेशन)” होती है. और NGO को हिंदी में “गैर सरकारी संगठन” कहते है. NGO एक ऐसी संस्था होती है तो किसी भी गवर्मेंट द्वारा संचालित नही कि जाती और न ही किसी लाभ या किसी भी Company का promotion के लिए बनाई जाती है.

NGO का मुख्य कार्य गरीब व असहाय बच्चो कि मदद, वरिष्ठ नागरिको (Senior Citizens) और पर्यावरण जैसे समस्याओ को हल करना होता है. यह संस्थाए किसी आम आदमी, सरकार या किसी व्यवसायिक संस्थान (Business Foundation) द्वारा स्थापित कि जाती है. NGO को किसी समुदाय, शहर स्तर, राष्ट्रिय स्तर या अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित किया जाता है.

NGOका कार्य जरुरतमंद लोगों की सहायता करना है। यह गरीब बेसहारा लोगों के दुःख – दर्द को समझते है वह ऐसे कई सारे लोगों को ढूंढ ही लेते है जो इनके साथ-साथ गरीब लोगों की मदद कर सके। NGO का काम पैसा कमाना नही होता यह लोगों की मदद करने का काम करती है। यही Ngo Ki Visheshta होती है।

NGO कैसे बनाया जाता है NGO Full Form क्या होती है?

अगर आप एक NGO बनाने कि सोच रहे है तो आपको बता दूँ  के NGO बनाने के कुछ नियम Statewise भिन्न होते है. NGO बनाने कि प्रक्रिया भी सभी State से भिन्न होती है. NGO का गठन करने के लिए कम से कम 11 लोगो का होना जरूरी है. आपको अपने NGO के लिए उद्धेश्य व सभी नियम तैयार कर लेने चाहिए.

आपको NGO के लिए अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, सचिव, कोषाध्यक्ष, सलाहकार, सदस्य आदि सभी तय कर लेना चाहिए. NGO में सभी लोगो को अपने अधिकार पता होने चाहिए. NGO का गठन करने के लिए सभी के हस्ताक्षर व सभी सदस्यों कि मंजूरी होनी चाहिए.

NGO कितने प्रकार के होते हैं NGO का पूरा नाम क्या है?

  • बिंगो व्यापार के अनुकूल अंतर्राष्ट्रीय एनजीओ
  • Cso नागरिक समाज संगठन
  • डोंगो डोनर ने एनजीओ का आयोजन किया
  • ENGO environmental एन.जी.ओ.
  • इंगो इंटरनेशनल एन.जी.ओ.
  • गोंगो सरकार दवारा operated NGO
  • टैंगो तकनीकी सहायक एनजीओ सहायता एनजीओ
  • Gso निचले स्तर का समर्थन संगठन
  • आम का बाजार advocacy NGO
  • चार्ट्स सामुदायिक स्वास्थ्य और ग्रामीण विकास समाज

Read More:-

MSME Full Form In Hindi – MSME क्या है?

Hello Friends, मैं आशा करता हूँ की आपको ये NGO Full Form in Hindi – एनजीओ क्या होता है post पसंद आई होगीं अगर आपको इस post से related कोई सवाल या सुझाव है तो आप नीचें comment करें और इस post को अपने दोस्तों के साथ जरुर share करें.